पेंट रोलर का उपयोग कैसे करें: रोलर पेंटिंग तकनीक


24-Nov-2023
3,404

विवरण :


पेंट रोलर के उपयोग से घर की आंतरिक और बाहरी दीवारों को कम समय में आसानी से रंगा जा सकता है। पेंट रोलर टूल (Paint roller tool) की बनावट पेंटिंग किए जाने वाली सतह पर एक बार में अधिक जगह को कवर करता ह और सतह पर चिकना फ़िनिश (smotth finish) प्रदान करता है। किंतु पेंट किए जाने वाली सतह के आधार पर पेंट रोलर का सही चुनाव करना आवश्यक है।

बाज़ार में छोटी -बड़ी क्षेत्र , दीवारों के किनारों, खुरदरी सतह आदि को पेंट करने के लिए विभिन्न प्रकार के पेंट रोलर उपलब्ध हैं।आइए देखें रोलर पेंटिंग तकनीक के प्रयोग से घर की बाहरी और आंतरिक दीवारों एवं सीलिंग को पेंट करने का प्रक्रिया।

पेंट रोलर टूल क्या है Paint Roller tool kya hai

पेंट रोलर में आमतौर पर दो भाग होते हैं - रोलर फ्रेम और रोलर कवर। रोलर कवर पेंट को रोलर फ्रेम में रोलर कवर जोड़ा जाता है। पेंट रोलर के हैंडल को पकड़ कर पेंट करने की प्रक्रिया पूरी की जाती है। पेंट रोलर के फ़्रेम में अपनी सुविधानुसार दूसरा रोलर कवर अटैच/लगाया जा सकता है।पेंट रोलर टूल से दीवारों और छतों की ऊँची सतह को पेंट करने के लिए अतिरिक्त हैंडल को जोड़ने का विकल्प मौजूद होता है।

पेंट रोलर टूल दीवारों, छतों और बड़े फर्नीचर के सतहों को कम समय में पेंट करने के लिए उपयुक्त होता है। रोलर की छिद्रयुक्त सतह में अधिक मात्रा में पेंट समाने की क्षमता होने के कारण ये पेंट ब्रश की तुलना में एक बार में ज़्यादा क्षेत्र को कवर करने और सतह पर एक समान पेंट की पर्त फैलाने में उपयुक्त होती है। पेंटिंग सतह की बनावट के आधार पर रोलर का चुनाव करना आवश्यक है। जैसे - एक चिकनी सतह वाले रोलर्स से चिकनी फिनिश प्राप्त होती है। वहीं खुरदरी सतह या चित्रकारी वाली दीवारों/सीलिंग की पेंटिंग के लिए मोटी या धागेदार सतह वाले रोलर्स का प्रयोग उपयुक्त रहता है।

पेंट रोलर के आकार और प्रकार Paint Roller Size and Types

मुख्यतः तीन आकार के पेंट रोलर टूल का प्रयोग किया जाता है -

मिनी रोलर - इसकी चौड़ाई लगभग 15 मिलीमीटर और व्यास 150 मिलीमीटर तक होती है। इस आकार के रोलर का प्रयोग किनारों, कोनो अथवा मुश्किल से हाथ पहुँचने वाले सतहों की पेंटिंग के लिए किया जाता है।

मिडि रोलर- ये माध्यम आकार के रोलर होते है इसकी चौड़ाई 150-250 मिलीमीटर और व्यास 50- 90 मिलीमीटर के आकार में होती है।इस आकार के रोलर सभी प्रकार के घरेलू पेंटिंग कार्यों के लिए उपयुक्त होते हैं। सभी पेशेवर पेंट कारीगर भी मिडि रोलर को उपयोग में लाते हैं।

फ़्रंट रोलर- इसकी चौड़ाई 250 मिलीमीटर से अधिक और व्यास 80 मिलीमीटर होती है। इसका उपयोग दीवारों और भीतरी छतों की अनियमित सतहों को पेंट करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसे ज़्यादातर पेशेवर पेंटर उपयोग में लाते है।

पेंट रोलर डिजाइन के प्रकार Types of Paint Roller Designs 

पेंट रोलर के सिलेंडर पर विभिन्न प्रकार के सतह वाले कवर उपलब्ध हैं जैसे- फ़ोम, रबर रोलर, पॉली -अमाइड /polyamide धागे से बना रोलर , फ़र रोलर, वेलोर/velor रोलर।इन रोलर्ज़ की बनावट सामग्री की भिन्नता के आधार पर भिन्न -भिन्न प्रकार के सतहों को पेंट करने के लिए उपयुक्त होते हैं इसके अतिरिक्त सामग्री की भिन्नता के आधार पर पेंट अवशोषण क्षमता में भिन्नता पायी जाती है।

अतः सतह की बनावट के आधार पर पेंट रोलर के आकार और प्रकार के चयन को ध्यान में रखना भी आवश्यक हो जाता है।

रोलर को पेंट में डुबाने का तरीका? How to dip roller in paint 

पेंट ऐप्लिकेशन रोलर ट्रे (application roller tray) का उपयोग रोलर पेंटिंग के लिए उपयुक्त माना जाता है। पेंट रोलर के सिलेंडर के पेंट में डूबने तक की मात्रा में ही ट्रे में पेंट भरना चाहिए अन्यथा पेंट रोलर के हैंडल के किनारों पर भी लगने और रोलर से अतिरिक्त पेंट ट्रे के बाहर फैलने की सम्भावना बनी रहती है। जिससे पेंटिंग के दौरान पेंट टपकने से सतह पर धब्बे आ सकते हैं।

पेंट रोलर टूल से पेंट करने का तरीक़ा How to Paint with Paint Roller

  • सबसे पहले पेंट के कंटेनर को खोलने के बाद अच्छी तरह से पेंट को कंटेनर के अंदर मिलाए जिससे कंटेनर की तले में पेंट जमा न रह जाए।
  • इसके बाद पेंट ऐप्लिकेशन रोलर ट्रे में पेंट की मात्रा का ध्यान रखते हुए इतना ही पेंट डाले जिसमें रोलर का फ़ैब्रिक पूरी तरह डूब सके रोलर को दो से तीन बार पेंट में डुबाना आवश्यक है ताकि पेंट रोलर के फ़ैब्रिक में अच्छी तरह से समा जाए।
  • फिर पेंट टूल में लगे सिलेंडर के फ़ैब्रिक युक्त कवर (fabric clyinder cover) की चौड़ाई को नापने पर प्राप्त परिणाम को ५ से गुणा करें।
  • अब इसी नाप के वर्गों की ५ पट्टियों क्रमशः पेंट करने वाले सतह को विभाजित करें।
  • इसके बाद पहली वर्ग की पट्टी को छोड़कर दूसरी पट्टी में रोलर की सहायता से पेंट भरें।
  • फिर तीसरी और चौथी पट्टी को छोड़ दें और पाँचवीं पट्टी में रंग करें।
  • अब पुनः वापसी में क्रमशः चौथी, पहली और तीसरी पट्टी में रंग भरें।
  • फिर पेंट की दूसरी कोटिंग करते वक़्त क्रमशः तीसरी, पहली,चौथी,पाँचवी और दूसरी पट्टी को पेंट करें।
  • पूरी सतह को पेंट करने के बाद, रोलर से पेंट को साफ़ करें। फिर इसे सतह पर तब तक रोल करें, जब तक कि सतह चिकनी और सभी असमानताओं से मुक्त न हो जाए। दबाव डालते समय सावधानी बरती जानी चाहिए क्योंकि रोलर को बहुत जोर से दबाने से मोटी पेंट की लकीरें आ सकती हैं।

विशेषज्ञों की राय में इस तकनीक के प्रयोग से दीवारों और सीलिंग/ceiling को पेंट किया जाना चाहिए इससे पेंट का वितरण सतह पर एक समान होता है।

पेंटिंग कार्य पूरा हो जाने के बाद पेंट को अच्छी तरह से सूखने में मौसम में नमी के आधार पर २४ घंटे या उससे अधिक समय भी लग सकता है।

पेंट रोलर के पेंट को साफ़ करना Cleaning Paint Roller Tool 

पेंट रोलर को यदि दोबारा पेंटिंग के लिए उपयोग कारण चाहते हैं, तो इसकी सतह से पेंट को स्क्रेपर की सहायता से लम्बाई में खुरच कर साफ़ करना होगा। वॉटर बेस्ट पेंट को पानी से साफ़ किया जा सकता है। किंतु आयल बेस्ट पेंट को कार्बोनिक विलायक जैसे - एसीटोन,गैसोलिन आदि में डुबाने के बाद साफ़ किया जा सकता है।पेंट साफ़ करने के बाद सूखने के लिए छोड़ देना चाहिए।


Tag: पेंट रोलर | रोलर पेंटिंग | रोलर तकनीक
24-Nov-2023
3,404

More Related Posts: